ये हैं प्रोफेशनल शॉपर, जो आपकी कपड़ों की खरीददारी में करती है मदद

नई दिल्लीः ये हैं तनुश्री रॉव जो अक्सर मुंबई के सेंट्रल मॉल में हाई फैशन स्टोर में शॉपिंग करती दिखाई देती हैं. लेकिन ये अपने लिए शॉपिंग नहीं करती बल्कि दूसरों के लिए शॉपिंग करती हैं. आप भी हो गए ना हैरान? जी हां, आज हम आपको बता रहे हैं प्रोफेशनल पर्सनल शॉपर के बारे में जो अपने लिए नहीं बल्कि आपके लिए, आपकी पर्सनेलिटी और बजट के हिसाब से आपको शॉपिंग करवाते हैं.

तनुश्री ने खुद को प्रोफेशनल शॉपर के तौर पर तैयार किया है. तनुश्री के काम में शॉपिंग करवाने से लेकर लोगों का स्टाइल बनवाना तक शामिल है. तनुश्री का कहना है कि आमतौर पर इंडिया में पर्सनल शॉपर्स को बहुत अमीर लोग ही अपॉइंट करते हैं. लेकिन तनुश्री सबको ये सर्विस देने में यकीन रखती हैं.

30 वर्षीय तनुश्री प्रोफेशनल पर्सनल शॉपर से पहले डिजीटल मार्केटियर पब्लिसिस्ट के तौर पर काम करती थीं. लेकिन अपने काम को छोड़ अपने पैशन को फॉले करते हुए रॉव ने फैशन इंडस्ट्री में कदम रखा

तनुश्री ने सोशल मीडिया पर अपनी सर्विस ऑफर करने की भी पहल की है. तनुश्री कोशिश करती हैं कि उनके क्लांइट का ना सिर्फ स्‍टाइल बरकरार रहे बल्कि वे उन्हें बेस्ट डील भी मिले. वे कहती हैं कि न्यू‍यॉर्क में लोग पर्सनल शॉपर से अपॉइंटमेंट लेते हैं और उनसे पर्सनली मॉल में मुलाकात करके उन्‍हें अपनी जरूरतों और ओकेजन के बारे में डिस्कशन करते हैं. तनुश्री को ये आइडिया बहुत पसंद आया.

तनुश्री ने प्रोफेशनल शॉपर के तौर पर हाई फैशन मॉल से शुरूआत की जहां उन्होंने तकरीबन 2000 क्लाइंट्स को डील किया और उन्हें बताया कि उनके लुक्स, कलर और बॉडी टाइप के हिसाब से किस तरह की ड्रेसेज उन्हें ट्राई करनी चाहिए. इस प्रोफेशन में सबसे बड़ा चैलेंज है कि लोग अपने न्यू लुक को लेकर कंफर्ट महसूस करें.

वे बताती हैं कि उन्‍होंने अपनी दो फीमेल क्लाइंट्स को शॉपिंग करवाने से पहले उनके साथ दो घंटे बैठकर मीटिंग की और उन्हें बताया कि वे फैटी नहीं है. कई बार लोग मोटापे के कारण सही ड्रेस नहीं चूज कर पाते. वे कहती हैं कि शॉपिंग में इंटरा पर्सनल कम्यूनिकेशन भी शामिल है ताकि क्लाइंट आप पर पूरी तरह से यकीन कर पाए. तनुश्री बताती हैं कि महिलाएं उनसे लॉन्जरी शॉपिंग और पोस्ट डिलीवरी के लिए भी वार्डरोब के बारे में सजेशन मांगती हैं.

उनके बहुत से क्लांइट कॉरपोरेट एम्पलॉई होते हैं. इनमें इंवेस्टमेंट बैंकर्स, लॉयर्स होते हैं जिनके पास शॉपिंग के लिए दिमाग लगाने का वक्त नहीं होता. वे कहती हैं कि पर्सनल शॉपर्स का एक घंटे का 3000 रूपए चार्ज लगता है जिसमें कंसलटेशन और मार्केट विजिट शामिल हाता है. शादी की शॉपिंग में ये फीस चेंज हो जाती है.



live a comment