आधार डेटा लीक: पीएम मोदी और ट्राई प्रमुख को चैलेंज देने वाले हैकर एलियट एल्डरसन है कौन?

  • News
  • July,31,2018
  • admin
  • 133
  • 0

एलियट एल्डरसन ने मार्च 2018 में आधार की एंड्रॉयड ऐप को मिनटों में हैक कर लिया था।

टेलीकॉम रेगुलेटर अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) के चेयरमैन आरएस शर्मा ने शनिवार को ट्विटर पर अपना आधार नंबर शेयर करते हुए चैलेंज दिया था कि उनके आधार नंबर से डेटा लीक करके दिखाया जाए। जिसके बाद एलियट एल्डरसन नाम के एक हैकर ने आरएस शर्मा के फोन नंबर, अकाउंट नंबर, एड्रेस, पैन नंबर समेत कई पर्सनल फोटो भी ट्विटर पर शेयर कर दी। इसके साथ एलियट एल्डरसन ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री को भी अपना आधार नंबर शेयर करने का चैलेंज दिया है।

                

ट्राई चेयरमैन आरएस शर्मा के आधार नंबर के जरिए उनके बैंक अकाउंट की डिटेल्स ली और उसमें रुपए भी जमा कराए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कई एथिकल हैकर्स ने शर्मा के बैंक अकाउंट में 1 रुपए जमा कराए और इसके स्क्रीनशॉट्स भी शेयर किए। वहीं इस बारे में UIDAI का कहना है कि हैकर्स ने उनकी जानकारी गूगल से ली है। हालांकि एलियट एल्डरसन हमेशा से आधार सिस्टम की सिक्योरिटी को लेकर सवाल खड़े करते रहे हैं। इसलिए आज हम एल्डरसन के बारे में बताने जा रहे हैं कि आखिर ये है कौन और इन्हें आधार में इतनी दिलचस्पी क्यों है?

फ्रांस के एक एथिकल हैकर हैं : एलियट एल्डरसन का असली नाम रॉबर्ट बैपटिस्ट बताया जाता है, जो फ्रांस का एक एथिकल हैकर है। ट्विटर पर रॉबर्ट एलियट एल्डरसन के नाम से ही है और उसकी प्रोफाइल के मुताबिक, वो एक सिक्योरिटी एक्सपर्ट है जो बतौर प्रोफेशन नेटवर्क और टेलीकम्युनिकेशन इंजीनियर है।
- एलियट ने आधार की मोबाइल ऐप को हैक कर दावा किया था कि उसके पास 22 हजार से ज्यादा आधार कार्ड की डिटेल्स है। इतना ही नहीं एलियट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 'NaMo App' और कांग्रेस की 'INC App' की सिक्योरिटी पर भी सवाल खड़े कर चुका है।

अमेरिकी ड्रामा थ्रिलर से प्रेरित है इनका नाम :दरअसल, सालों पहले एक अमेरिकी ड्रामा थ्रिलर सीरियल आया था, जिसका नाम 'मिस्टर रोबोट' था। इस सीरियल में रामी मलिक नाम के एक्टर ने मिस्टर रोबोट का किरदार निभाया था, जिसका नाम 'एलियट एल्डरसन' था।
- इस सीरियल में एलियट साइबर सिक्योरिटी इंजीनियर और हैकर रहता है। इस सीरियल में एक डॉयलॉग रहता है जिसमें एलियट कहता है 'मैं रात में एक हैकर हूं और दिन में एक साइबर सिक्योरिटी इंजीनियर...।'

आधार में इतनी दिलचस्पी क्यों?
- एक इंटरव्यू के दौरान एलियट से जब पूछा गया कि उन्हें भारत के आधार सिस्टम में इतनी दिलचस्पी क्यों है? तो उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि 'आधार एक बहुत बड़ा प्रोजेक्ट है, जिसमें आम लोगों से जुड़ी कई अहम जानकारियां मौजूद हैं, इसलिए इसकी सिक्योरिटी को और मजबूत करने की जरुरत है।'
- एक दूसरे इंटरव्यू में एल्डरसन ने बताया था कि उसने आधार की एंड्रॉयड एप्लीकेशन में कई सारी खामियां पाई हैं और यूजर्स का बायोमैट्रिक डेटा एक लोकल डेटाबेस में सेव किया जा रहा है जिसको बड़ी आसानी से हैक किया जा सकता है। उसने ये भी माना था कि इंटरनेट पर ही आधार कार्ड की डिटेल्स ली जा सकती है क्योंकि आधार का डेटा UIDAI के सर्वर पर नहीं है और इसे हैक करने की जरुरत भी नहीं है।

Courtesy: Bhaskar

live a comment